Blog

आखिर डिविडेंड होता क्या है और हमें कैसे मिलता है? और कंपनियां डिविडेंड क्यों देती हैं?

डिविडेंड (Dividend) का अर्थ-
dividends 5

दोस्तों स्टॉक मार्केट में आपने जरूर सुना होगा कि किसी कंपनी ने 50% और किसी ने 100 फीसद डिविडेंड दे दिया है. आपको बता दे की स्टॉक मार्किट में बड़े-बड़े निवेशक डिविडेंड से बहुत पैसा कमाते हैं. जानकारी के लिए बता दे की दुनिया के टॉप 10 अमीर लोगो में गिने जाने वाले इन्वेस्टर Warren Buffett हर साल मात्र एक कंपनी के डिविडेंड से तीन हज़ार करोड़ से भी ज्यादा पैसा कमाते है. लेकिन मन में सवाल होता है की आखिर डिविडेंड क्या है? और इससे हम कितने पैसे कमा सकते हैं और कोन से स्टॉक डिविडेंड वाले है.तो दोस्तों आइये हमारी इस पोस्ट को आखिर तक ज़रूर पढ़िए इस पोस्ट में हम आपके हर सवालो के जवाब बहुत ही आसान शब्दों में देंगे।

स्टॉक मार्केट में Dividend क्या है?
2

दोस्तों Dividend कंपनी के लाभ का वो हिस्सा है. जो कंपनी अपने शेयर होल्डर्स यानि के जो उसके शेयर पर मालिकाना कुछ% अधिकार रखता है. उसको प्रॉफिट के रूप में देती हैं. यानि जैसे अपने किसी कंपनी के शेयर खरीदे है. मान लीजिये 10 शेयर ख़रीदे है. अब जब कंपनी को अपनी कंपनी में प्रॉफिट हुआ तो जितने% आप कंपनी का मालिकाना अधिकार रखते है तो प्रॉफिट का जितने % आपके हिस्से में आता है वो कंपनी आपको उतना ही प्रॉफिट देती है तो उसे शेयर मार्केट में Dividend कहते हैं। सिर्फ कुछ ही कंपनियां Dividend देती हैं.और ये पर शेयर के हिसाब से दिया जाता है. इन्वेस्टर को ये डिविडेंड का पैसा 3 महीने में या साल बेसिस पर मिलता है।और जो कंपनियां Dividend नहीं देती हैं वह अपने बचे हुए प्रॉफिट को वापस से कंपनी की ग्रोथ में लगा देती है.

सरल भाषा या फिर हिंदी में कहे तो डिविडेंड का अर्थ है लाभांश’मतलब लाभ का अंश जो कंपनी के नेट प्रॉफिट का एक भाग है जो शेयर होल्डर्स को दिया जाता है.

Dividend इनकम क्या है?

डिविडेंड इनकम वो पैसा होता है.जो शेयर को होल्ड रखने पर मिलता है. उधारण जैसे आपके पास Dividend देने वाली कंपनी के जितने अधिक शेयर होंगे आपकी उतनी ही ज्यादा डिविडेंड इनकम होंगी।आपको सरल भाषा मे बताते हैं जैसे-किसी व्यक्ति के पास 1000 शेयर हैं. और अगर उनका cash Dividend कीमत 1 रुपये हैं तो उसे Dividend के रूप में 1000 रुपये मिलेंगे।.

सवाल किया गया था की डिविडेंड per share होता क्या है?

दोस्तों जानकारी के लिए आपको बता दे की कंपनी के एक शेयर पर जितना डिविडेंड मिलता है.उसको ही ‘Dividend per share‘ कहा जाता हैं. और इसको शार्ट में DPS भी कहते हैैं. उदहारण देकर आपको समझाते हैं-

दोस्तों जैसे- आपके पास Vama Industries Ltd कंपनी के 100 शेयर हैं. और एक शेयर पर डिविडेंड 10 रुपये है.तो आपकी डिविडेंड इनकम होंगी (100 ×10 = 1 000) रुपये

Dividend यील्ड क्या होता है?

डिविडेंड यील्ड का अर्थ है कि, शेयर की कीमत पर कंपनी कितने फीसद का डिविडेंड देती है. दूसरे शब्दों में बात करें तो Dividend यील्ड एक ratio है, जो यह दर्शाता है कि कंपनी ने 1 शेयर पर जितना Dividend दिया है. वो कंपनी के वर्तमान मार्केट कीमत का कितना फीसदी (%) है.

उदाहरण― जैसे अगर Vama Industries Ltd कंपनी के शेयर की कीमत ₹100 है और Vama Industries Ltd कंपनी ने 5 रुपये per share का डिविडेंड दिया है.तो कंपनी का Dividend यील्ड होगा। /100) × 100 = 5%

और इसका मतलब है Vama Industries Ltd कंपनी में इन्वेस्टमेंट करने पर आपको साल का 5% का डिविडेंड मिलेगा.

 

डिविडेंड वाले शेयर में इन्वेस्टमेंट करने के फायदे-

दोस्तों इन्वेस्टर डिविडेंड को लेकर इसीलिए उत्तेजित रहते हैं. क्योंकि शेयर मार्किट में आप लाभ दो तरीके से कमाते हैं―

1 शेयर को कम कीमत में खरीद कर ज्यादा में बेचना

2 . डिविडेंड से .

  1. निवेशक Dividend देने वाले शेयर में इसलिए निवेश करते हैं. क्योंकि 1, तो शेयर होल्डर्स को हर साल शेयर का जो प्राइस बढ़ेगा उसमे तो प्रॉफिट होगा ही इसके साथ ही एक साल में एक या दो बार एक fixed Amount भी मिलेगा
  2. दोस्तों कुछ इन्वेस्टर यह भी सोच कर इन्वेस्ट करते हैं कि अगर शेयर कीमत बढ़ेगी भी नहीं तो भी वो अगर 10% डिविडेंड yield वाली कंपनी में इन्वेस्ट कर देते हैं. तब भी FD के 6% से ज्यादा रिटर्न तो कमा ही लेंगे। ये भी डिविडेंड वाली कंपनी में निवेश करने का फायदा है।
  3. दोस्तों Demat अकाउंट के पोर्टफोलियो में जितने अधिक शेयर होंगे उतना ही ज्यादा आपको Dividend मिलेगा. इसलिए इन्वेस्टर इसे स्टॉक मार्केट से नियमित Income या निष्क्रिय Income कमाने का जरिया भी मानते हैं.
    4 शेयर मार्केट में कुछ अच्छे Dividend देने वाले मजबूत स्टॉक भी हैं जैसे; Britania Industries जिसमे इन्वेस्ट करने से आपका पैसा वक़्त के साथ Grow होता रहता है और side में Dividend Income भी मिलती रहता है.
    दोस्तों दुनिया के किसी भी अमीर आदमी को देख लो चाहे वो इंडिया के मुकेश अंबानी या गौतम अडानी हों, टेस्ला के Elon Musk, Microsoft के बिल गेट्स या फिर Amazon के जैफ बेजॉस ये सभी इस वजह से आमिर नहीं की, इनकी कंपनियों के अधिक शेयर हैं. दोस्तों ये तो इसलिए आमिर है क्योंकि ये सभी सालाना अपनी कंपनियों से हजारों करोड़ों रुपए की Dividend Income कमाते हैं

Dividend को समझना बहुत जरूरी है-

केवल Dividend से हम किसी भी कंपनी के प्रवर्तक के बारे में बहुत कुछ जान सकते हैं. जैसे; प्रबंधन की प्रकृति,, ईमानदारी, योजनाएँ और वो कंपनी को लेकर कितने Serious है और वो कंपनी को किस नज़र से देखते हैं. 

हमें देखना होगा कि कंपनी कैसे Dividend देती है.और उसका Past Dividend Track क्या रहा है.

डिविडेंड आखिर कौन -कौन सी कंपनियां देती हैं?

आपको बता दे की Dividend सदैव वो ही कंपनियां देती है. जो लाभ में होती है.नुकसान में होने वाली कंपनियां कभी भी Dividend नहीं देती है. Dividend वो कंपनियां देती है. जो काफी बड़ी और Mature हो चुकी होती है.और जो नई कंपनियां होती है.वो अपने आगे का फ्यूचर देखती है.और उसकी ग्रोथ में ही सारा प्रॉफिट लगाती है. क्युकी उनको फ्यूचर का कुछ पता नहीं होता. इसके अलावा दोस्तों ऐसा भी नहीं है. की जो कंपनियां डिविडेंड नहीं देती है. तो निवेशक को लाभ नहीं होता है.आपको बता दे की अगर कंपनी अपने लाभ को डिविडेंड देने की बजाय सही जगह लगाकर अपने बिजनेस की ग्रोथ को बढ़ाती जाएगी. तो उसका नेट प्रॉफिट भी बढ़ता रहेगा. इससे अगर लाभ बढ़ेगा तो फायदा भी इन्वेस्टर्स को ही मिलेगा. दोस्तों इसमें 2 तरीके से शेयर होल्डर्स को लाभ मिलेगा ― एक तो कंपनियों का लाभ बढ़ने से शेयर कीमत भी बढेगा और इसका प्रॉफिट शेयर होल्डर को ही मिलेगा.और दूसरा ये भी है की अगर वो कंपनी फ्यूचर में डिविडेंड देती है.तो वह आज के डिविडेंड से बहुत ज्यादा होगा. क्योंकि जब तक आने वाले समय में कंपनी बहुत बड़ी हो चुकी होगी और उसका प्रॉफिट भी बहुत ज्यादा हो चुका होगा.

Dividend 5 प्रकार के होते हैं-

Dividend-types 6

  • कैश डिविडेंड
  • स्टॉक डिविडेंड
  • स्क्रिप डिविडेंड
  • लिक्विडेटिंग डिविडेंड
  • प्रॉपर्टी डिविडेंड

ज्यादातर कंपनियां Cash डिविडेंड ही देती है और इसी लिए बाकी सब डिविडेंड के बारे में जानने की कोई भी आवश्यकता नहीं है.

आपको बता दे की Cash dividend दो प्रकार के होते हैं―

  1. Interim डिविडेंड
  2. Final डिविडेंड

Dividend का फार्मूला

Dividend = Current share price × dividend yield × number of shares-

आपको इस फार्मूले में डिविडेंड को कैलकुलेट करने के लिए आपको 3 चीज़े के बारे में जानना बहुत ज़रूरी है ―

एक तो आपको कंपनी का करंट मार्केट कीमत (CMP)पता होनी चाहिए

और दूसरा आपको , डिविडेंड यील्ड जो शेयर के चार्ट के नीचे छोटे अक्षरों में लिखी रहती है वो पता होनी चाहिए

और तीसरा आपको ये भी पता होना चाहिए की आपके पास कितने शेयर हैं और उनकी संख्या जो आप अपने डीमैट अकाउंट के पोर्टफोलियो में जाकर देख सकते हैं। वो भी पता होनी चाहिए

तो दोस्तों ये थी आपके लिए डिविडेंड से जुडी जानकारी जो हम आपके लिए लेकर आए थे ,ऐसी ही और भी जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट को सुब्स्क्राइब कीजिये और टेक्निकल कोर्स सीखने के लिए हमे कॉल या व्हाट्सअप कीजिए 9897563039

 

2 thoughts on “आखिर डिविडेंड होता क्या है और हमें कैसे मिलता है? और कंपनियां डिविडेंड क्यों देती हैं?

  1. Pingback: ये धासु कंपनी के स्टॉक आपको बना सकते है करोड़पति नहीं हैं तो खरीद कर रख लीजिये - Stock Market Gurukul

  2. Pingback: 3 साल में 1 लाख रुपये के बना दिये 92 लाख रुपये, जानिए इस कंपनी के बारे मे - Stock Market Gurukul

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Call us Now stockmarketgurukul.in
Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/biwekxhq/stockmarketgurukul.in/wp-includes/functions.php on line 5420